Wednesday, December 18, 2019

जानें Asaduddin Owaisi के तीन हैरानी भरे राज, सिर्फ Political News पर

Asaduddin Owaisi की बात करें तो वो India में मुसलमानों के बड़े नेता माने जाते हैं। अपनी बेबाक शैली के लिए मशहूर असदुद्दीन ओवैसी AIMIM यानि ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी के अध्यक्ष हैं। Asaduddin Owaisi आंध्र प्रदेश की राजधानी हैदराबाद से सांसद चुने गए हैं। वो एक बार नहीं कई बार से लगातार इस सीट से संसद के दरवाजे पर कदम रख रहे हैं। इसी से उनकी लोकप्रियता का पता लगाया जा सकता है। Asaduddin Owaisi मुसलमानों के हक की आवाज को संसद में पुरजोर तरीके से उठाते हैं। हालांकि उनका विरोध करने वाले भी कम नहीं हैं। उनको BJP के नेता देश को बांटने वाला भी करार दे देते हैं। कई बार उनके बयानों का विरोध भी होता रहा है। हालांकि असदुद्दीन ओवैसी के बारे में बहुत कम लोग जानते होंगे उनकी निजी जिन्दगी के बारे में। आज हम आपको Asaduddin Owaisi की निजी जिन्दगी के तीन राज बताते हैं जिनको जानकर आप भी हैरान हुए बिना नहीं रह सकेंगे। 

Asaduddin Owaisi के जीवन का पहला राज

असदुद्दीन ओवैसी की बात करें तो उनका जन्म हैदराबाद में ही हुआ है। यानि अपनी पैदाइश से Asaduddin Owaisi हैदराबाद के ही रहने वाले हैं। वो कई बार यहां से सांसद रह चुके हैं। 13 मई 1969 को पैदा हुए ओवैसी इस समय 50 साल के हो गए हैं। उन्होंने लंदन से पढ़ाई की है। जी हां हैदराबाद से तालीम पूरी करने के बाद उन्होंने लंदन से पढ़ाई पूरी की। Asaduddin Owaisi के जीवन का पहला राज कम ही लोग जानते होंगे। क्या आपको मालूम है कि ओवैसी एक बहुत अच्छे बॉक्सर हैं। जी हां असदुद्दीन ओवैसी एक जाने माने बॉक्सर हैं और उन्होंने बॉक्सिंग भी लंदन में सीखी है। ओवैसी को बॉक्सिंग का बेहद शौक है और वो कई बार रिंग में अपने हाथ भी आजमा चुके हैं। कम लोगों को मालूम होगा कि अक्सर हैदराबाद में ओवैसी जिम में चले जाते हैं और वहां बॉक्सिंग करने वालों से दो दो हाथ करने से नहीं चूकते हैं। हालांकि ओवैसी पेशे से वकील भी हैं लेकिन उन्होंने राजनीति को अपने लिए चुना है। 

Asaduddin Owaisi के जीवन का दूसरा बड़ा राज

असदुद्दीन ओवैसी के जीवन में कई राज हैं। भले ही ओवैसी को कट्टर नेता माना जाता हो लेकिन असल में वो कट्टर नेता नहीं हैं। वो सिर्फ कट्टर बयान जरूर देते हैं लेकिन वो ऐसा सिर्फ अपनी राजनीति चमकाने के लिए करते हैं। हम आपको इस बात का सबूत देते हैं कि आखिर   Asaduddin Owaisi क्यों धर्मनिरपेक्ष नेता हैं। इसके दो उदाहरण हैं जिनको जानने के बाद आप समझ जाएंगे कि असदुद्दीन ओवैसी वैसे नहीं हैं जैसा वो खुद को दिखाते हैं। इसका पहला उदाहरण उनकी पार्टी की ओर दिए जाने वाले टिकट हैं। एआईएमआईएम जब भी चुनाव लड़ती है तो ओवैसी बिना किसी भेदभाव के टिकट देते हैं। इनमें वो कई बार मुसलमानों को दरकिनार कर हिन्दू नेताओं को टिकट देते हैं। वहीं दूसरा उदाहरण उनका अस्पताल है जो हैदराबाद मौजूद हैं। इस अस्पताल का नाम उस्मानिया अस्पताल है। कम लोगों को पता होगा कि Asaduddin Owaisi के इस अस्पताल में मुसलमानों से ज्यादा हिन्दू काम करते हैं। अपने अस्पताल में भी वो बिना किसी भेदभाव के कर्मचारी नियुक्त करते हैं। 


Asaduddin Owaisi के जीवन का तीसरा बड़ा राज

अब हम आपको Asaduddin Owaisi का तीसरा बड़ा राज बताते हैं जिसको आपने पहले शायद ही कभी सुना होगा। ओवैसी के परिवार के बारे में कम ही लोग जानते होंगे। लेकिन असदुद्दीन ओवैसी के घर में ही एक राज छिपा है जो लोगों को पता ही नहीं है। ये राज उनके छोटे भाई Akbaruddin Owaisi का है। जी हां अकबरुद्दीन ओवैसी उनके छोटे भाई हैं लेकिन आपको बताएं कि उन्होंने किससे शादी की है। असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई की पत्नी का धर्म क्या है। ये राज हम आपको बताते हैं। असल में असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई अकबर ने किसी मुस्लिम लड़की से शादी नहीं की है बल्कि उनकी पत्नी ईसाई धर्म की है। जी हां असदुद्दीन ओवैसी की बहू मुस्लिम न होकर ईसाई है। अकबरुद्दीन ओवैसी को एक ईसाई लड़की से प्यार हो गया था। इसके बाद उसने उस लड़की से निकाह कर लिया था। हालांकि इस बात से ओवैसी के पिता बेहद नाराज हो गए थे और उन्होंने अकबर से बोलना ही छोड़ दिया था। धीरे-धीरे पिता और पुत्र के रिश्ते सामान्य हो सके थे। 

दोस्तो आपको कैसे लगे Asaduddin Owaisi के तीन राज, इनमें से कोई राज आप पहले से जानते थे, कमेंट में बताएं और न्यूज को सोशल मीडिया पर शेयर करें। धन्यवाद।।

No comments:

Post a Comment