Monday, December 16, 2019

जानें Kuldeep Singh Sengar के तीन बड़े राज, Political news पर


Kuldeep Singh Sengar


कुलदीप सिंह सेंगर(Kuldeep Singh Sengar) भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक रह चुके हैं। वो एक समय BJP में कद्दावर नेता हुआ करते थे। उनका भाजपा में दबदबा हुआ करता था। Kuldeep Singh Sengar भाजपा के लिए उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले से सक्रिय हुआ करते थे। हालांकि अब सेंगर की किस्मत पलट चुकी है। दो साल पहले का रेप का केस ऐसा उलझा कि कुलदीप सेंगर की किस्मत भी दगा दे गई।  Unnao Rape Case में उनको अब दोषी करार दे दिया गया है। कुलदीप सिंह सेंगर के बारे में आप कम ही बात जानते होंगे। हम आपको आज उनके बारे में तीन ऐसी बात बताएंगे जिनको कम ही लोग जानते होंगे। चलिए जानते हैं Kuldeep Singh Sengar के बारे में तीन ऐसी बातें जो कम ही लोगों को पता हैं। 

Kuldeep Singh Sengar रेप केस में दोषी करार

सबसे पहले हम आपको BJP के पूर्व नेता कुलदीप सिंह सेंगर के बारे में जानकारी दे देते हैं। आपको बता दें कि 16 दिसंबर को सीबीआई कोर्ट का बड़ा फैसला आ गया है। उन्होंने साल 2017 में एक नाबालिक लड़की का अपहरण और रेप किया था। Unnao Rape Case में कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ बड़ा फैसला सुनाया गया है जिसके बाद उनकी मुश्किल बढ़ गई है। सेंगर को कोर्ट ने दोषी करार दे दिया है यानि उनके खिलाफ नाबालिग लड़की से रेप और अपहरण करने का दोष सिद्ध हो गया है। अब उनको सजा सुनाई जानी बाकी है। 17 दिसंबर को उनको सजा होने जा रही है जिसके लिए बहस होगी। जैसे ही Kuldeep Singh Sengar ने अपनी सजा की खबर सुनी, वो रोने लग गए। इसके बाद उनकी बहन ने उनको समझाया। वहीं एंकर Rubika Liyaquat ने सेंगर की सजा पर ट्विट कर कहा कि निर्भया कांड के दिन ही Unnao Rape Case में इंसाफ हो गया। 

Kuldeep Sengar

Kuldeep Singh Sengar का पहला राज 

कुलदीप सिंह सेंगर का पहला राज बहुत दिलचस्प है। कम ही लोग जानते होंगे कि उनकी Akhilesh Yadav से ठन चुकी है। जी हां समाजवादी पार्टी की सरकार थी औऱ उस समय वो सपा में थे। उन्होंने अपनी पत्नी संगीता सेंगर को चेयरमैन का चुनाव लड़वाना चाहते थे। हालांकि अखिलेश यादव इसके खिलाफ थे। इसके बाद जो हुआ वो राज है। कुलदीप ने अपनी पत्नी संगीता को चेयरमैन का चुनाव लड़वाया और हैरानी की बात है कि वो चुनाव जीत भी गईं। ये राज की बात कम ही लोग जानते हैं कि अखिलेश सरकार ने अपने ही नेता की पत्नी को हरवाने के लिए ऐड़ी चोटी का जोर लगा दिया था। हालांकि ये काम नहीं आया। 

Kuldeep Singh Sengar का दूसरा राज 

कुलदीप सिंह सेंगर के बारे में दूसरा राज और भी दिलचस्प है। क्या आपको पता है कि उन्नाव जिले में उनकी छवि कैसी है। कम ही लोगों को पता होगा कि वो अपने जिले के हीरो की तरह हैं। जी हां रेप का आरोप लगने के बाद भी अगर वो आज चुनाव लड़ते हैं तो लोग उनको वोट देकर वहां से जितवा देंगे। हालांकि सेंगर ने ये नाम एक दिन में नहीं कमाया है। सेंगर के बारे में लोग बताते हैं कि जिले में किसी का भी सुख दुख हो, वो हर जगह पहुंच जाते थे। ठेकेदारी से उन्होंने अपना जीवन शुरू किया और राजनीति तक पहुंचे। कुलदीप सिंह सेंगर का ये राज किसी को नहीं पता होगा कि ठेकेदारी के दौरान जो रकम वो कमाया करते थे। उस रकम को वो गरीब लोगों को भी दिया करते थे। इसी के बाद उनका जिले में नाम हो गया और उनकी राजनीति चमक गई।


Kuldeep Singh Sengar का तीसरा राज 

कुलदीप सिंह सेंगर का तीसरा राज तो सबसे दिलचस्प है। क्या आपको लगता है कि वो शुरू से ही भाजपाई हैं। जी नहीं न तो वो भाजपाई शुरू से रहे और न ही वो संघ के सदस्य रहे हैं। कम ही लोग जानते होंगे कि वो तो मायावती Mayawati की पार्टी बहुजन समाज पार्टी के सदस्य थे। मायावती की पार्टी ने ही उनको राजनीति में लाने का बीड़ा उठाया। वो पहली बार जब एमएलए बने तक भी वो बसपा से ही बने। इसके बाद वो सपा के विधायक बने और साल 2007 और 2012 में सपा से चुनाव लड़कर वो विधायक बने। तब कहीं जाकर वो भाजपा में पहुंचे हैं। आपको उनका राज पता नहीं होगा कि 17 साल से वो विधायक रहे हैं। इतना ही नहीं उनके दबदबे का अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि उनका परिवार पिछले 50 साल से प्रधानी का चुनाव जीतता चला आ रहा है।

दोस्तो आपको क्या लगता है kuldeep Singh Sengar के बारे में बताएं, कमेंट करें और न्यूज शेयर करें।।

No comments:

Post a Comment