Tuesday, December 17, 2019

Pervez Musharraf की फांसी पर आया Reham Khan का बड़ा बयान, बोली Musharraf...

 Pervez Musharraf
Pervez Musharraf death penalty


Pervez Musharraf परवेज मुशर्रफ एक जमाने में पाकिस्तान के सबसे कद्दावर नेता हुआ करते थे। वो Pakistan के जनरल थे। इसके बाद Musharraf ने नवाज शरीफ(Nawaz Sharif) सरकार का तख्ता पलट कर दिया था। Pervez Musharraf इसके बाद खुद पाकिस्तान के राष्ट्रपति बन गए थे। हालांकि परवेज मुशर्रफ के दिन अब अच्छे नहीं चल रहे हैं। उनको पहले दुनिया की अति दुर्लभ बीमारी हो गई, जिसने पहले से ही उनको परेशान करके रखा था। इसके बाद मंगलवार को पाक कोर्ट की ओर से एक बड़ा फैसला आ गया जिसने Musharraf की परेशानी और बढ़ा दी है। परवेज मुशर्रफ को पाकिस्तान की कोर्ट ने फांसी की सजा सुना दी है। इतना बड़ा फैसला आते ही पाकिस्तान की राजनीति में हड़कंप मच गया है। इस फैसले को लेकर प्रतिक्रियाएं भी आनी शुरू हो गई हैं। Imran Khan इमरान खान की पूर्व पत्नी Reham Khan रेहम खान ने Pervez Musharraf News को सुनते ही अपनी चुप्पी तोड़ दी है। आइए जानें Reham Khan ने क्या बयान दिया है। 

Pervez Musharraf दुबई में करवा रहे हैं इलाज

परवेज मुशर्रफ की बात करें तो उनको फांसी की सजा हो गई है लेकिन वो इस समय पाकिस्तान में नहीं हैं। परवेज मुशर्रफ इस समय दुबई में हैं। वो अपनी दुर्लभ बीमारी का वहां इलाज करवा रहे हैं। आपको बता दें कि उनको ऐसी बीमारी है जिसमें शरीर में प्रोटीन जमा होने लगता है। इस बीमारी से Pervez Musharraf लंबे समय से पीड़ित हैं। आपको बता दें कि उनकी उम्र इस समय 76 साल की है। 

Reham Khan

Pervez Musharraf ने लगवाया था आपातकाल 

परवेज मुशर्रफ पर देशद्रोह का आरोप लगाया गया था। इसके बाद पाकिस्तान कोर्ट में उनके केस की सुनवाई हुई। ये केस पूरा हो गया और मंगलवार को कोर्ट ने बड़ा फैसला सुना दिया। Musharraf को कोर्ट ने फांसी की सजा सुना दी। आपको बता दें कि उन्होंने पाकिस्तान में वर्ष 2007 में आपातकाल लगवा दिया था। उन्होंने पाक संविधान को रद्द कर दिया था। इसी वजह से उनके खिलाफ देशद्रोह का केस चल रहा था। इसी केस में मंगलवार को कोर्ट का दमदार फैसला आ गया।

Pervez Musharraf पर साल 2013 में दर्ज हुआ था केस

परवेज मुशर्रफ के बुरे दिन साल 2013 में शुरू हुए थे। इससे पहले उनके खिलाफ केस नहीं दर्ज था। हालांकि साल 2013 में नवाज शरीफ की पार्टी ने उनके खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज करवाया था। आपको बता दें कि देशद्रोह के केस में पाकिस्तान में बहुत सख्त सजा दी जाती है जो सजाए मौत है। साल 2014 में मुशर्रफ आरोपी घोषित किए गए थे। इसके बाद उनको बयान देने के लिए बुलाया गया था। हालांकि उन्होंने यहां आने से मना कर दिया था। Pervez Musharraf ने अपनी सेहत का हवाला देकर आने से इनकार कर दिया था। 

Reham Khan tweet

Pervez Musharraf पर क्या बोलीं Reham Khan

परवेज मुशर्रफ की फांसी की सजा के बारे में जानते ही रेहम खान Reham Khan ने चुप्पी तोड़ दी। रेहम खान ने ट्विटर पर बड़ा बयान दे दिया। रेहम ने ट्विट किया कि विशेष कोर्ट ने उस जनरल को फांसी की सजा सुनाई है जिसने अपनी शक्ति त्यागने से इनकार कर दिया था और जिसने संविधान को नुकसान पहुंचाया। रेहम बोलीं कि नवाज शरीफ पर जनरल को माफ न करने का इल्जाम लगा था। वहीं रेहम ने कहा कि शरीफ फिर खामोश हैं जब एक दूसरा जनरल सेवा विस्तार मांग रहा है। 

दोस्तो आपको क्या लगता है Pervez Musharraf को फांसी सही दी गई है या नहीं, कमेंट में बताएं और न्यूज शेयर करें।  

No comments:

Post a Comment